नई पोस्ट करें

'कसौटी जिंदगी..' की आमना शरीफ के स्टाफ मेंबर को हुआ कोरोना, एक्ट्रेस की रिपोर्ट आई निगेटिव

2022-09-29 05:08:32 012

कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवइस रमजान सिर्फ खाने पर नहीं बल्कि डेकोर पर भी दें ध्यान, इन टिप्स के जरिए घर को लगाएं चार चांद******दो साल के अंतराल के बाद, हम रमजान के पवित्र त्योहार को खुशी और उत्साह के साथ मनाने के लिए वापस आ गए हैं। जैसा कि लोग इन दिनों पहले से कहीं अधिक बार मिल रहे हैं, उत्सव के लिए अपने घर को तैयार करने की स्पष्ट आवश्यकता है चाहे वह इनडोर हो या आउटडोर, इफ्तार समारोह के लिए आपके घर में रंगों और बनावट का मिश्रण होना चाहिए।शुक्रगुजार होने और अपने परिवार को एक साथ लाने का त्योहार है, इसलिए आपका घर आरामदायक होना चाहिए। सही फर्नीचर और सजावट शांति की भावना पैदा कर सकती है और मौसम की भावना का आह्वान कर सकती है। ईद अल फितर से पहले अपने घर को रोशनी, लालटेन और रंगीन डिनरवेयर से अपडेट करने का यह सबसे अच्छा समय है।रमजान के महीने के दौरान, अपने लिविंग रूम में दीवार पर रोशनी और अपने कोने की मेज पर रणनीतिक रूप से रखी मोमबत्तियों को लटकाकर एक जादुई माहौल बनाएं। स्ट्रिंग लाइट और मोमबत्तियां मिलकर अंतरिक्ष को खूबसूरती से रोशन करती हैं और हमारी इंद्रियों पर शांतिपूर्ण प्रभाव डालती हैं। आरामदायक शाम का आनंद लेने के लिए आप इन्हें अपनी बालकनी पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।अपने सोफे को कच्छ कढ़ाई के साथ जटिल रूप से सजाए गए मुद्रित कुशन के साथ एक बदलाव देकर रमजान समारोह में बोहेमियन स्वभाव जोड़ें। ताजे फूल और पौधे प्रकृति के रंगीन सुगंध फैलाने वाले होते हैं। वे आपकी आत्मा को उज्‍जवल कर सकते हैं। वे प्रियजनों को बयान देने का एक शानदार तरीका भी है।एक ऐसे प्लांटर का उपयोग करें जो दूसरे सजावटी तत्व के रूप में दोगुना हो। अपने व्यक्तिगत स्वाद के आधार पर चीनी मिट्टी के बरतन या धातु से चुनें। इस तरह की छोटी-छोटी चीजें आपके घर में बिना किसी एक टुकड़े के और अधिक परिभाषा लाती हैं। कुछ वॉल आर्ट घर लाएं जो आपके घर को रंगों से सजाने में मददगार साबित हो। आप दीवारों पर कहानी सुनाने के लिए कई तरह के छोटे-छोटे टुकड़ों का इस्तेमाल कर सकते हैं, या आप एक स्टेटमेंट पीस चुन सकते हैं। पारिवारिक इमेजिस को फ्रेम किया जा सकता है और दीवारों पर लटका दिया जा सकता है। बुकशेल्फ आमतौर पर एक अच्छा विचार है और आप प्रयोग कर सकते हैं कि आप उन्हें कैसे व्यवस्थित करते हैं।चांद की रोशनी से बगीचे में बाहर की तुलना में उस शानदार भोजन के लिए इससे बेहतर जगह और क्या हो सकती है? अपनी बालकनी में कुशन, स्टेटमेंट चेयर और बेंच के साथ एक आरामदायक माहौल बनाएं। परिवार को घेरने के लिए आप एक लो टेबल भी लगा सकते हैं।

कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवSA T20 League Auction: मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी पर सनराइजर्स ने लगाई सबसे बड़ी बोली, देखें सभी टीमों के स्क्वॉड******Highlightsसाउथ अफ्रीका में होने वाली टी20 लीग की नीलामी पूरी हुई और इसमें आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए खेलने वाले अफ्रीकी युवा बल्लेबाज ट्रिस्टन स्टब्स (Tristan Stubbs) सबसे महंगे बिके। स्टब्स पर सनराइजर्स हैदराबाद की फ्रेंचाइजी सनराइजर्स ईस्टर्न केप ने 9.2 मिलियन R (South African Rand, 1 R= 4.50 INR) में खरीदा था। इसके अलावा साउथ अफ्रीका के ही रिली रोस्यू (Rilee Rossouw) पर दिल्ली कैपिटल्स की टीम प्रिटोरिया कैपिटल्स ने 6.9 मिलियन R का दांव खेला और उन्हें खरीद लिया।इस लीग के लिए फ्रेंचाइजीज ने अपने-अपने स्क्वॉड तैयार कर लिए हैं। कई बड़े खिलाड़ियों को खरीददार भी नहीं मिले। आइए देखते हैं एक-एक करके सभी टीमों के स्क्वॉड:-: फाफ डु प्लेसिस, गेराल्ड कोएत्जी, महेश थीक्षाना, रोमारियो शेफर्ड, हैरी ब्रुक, जानेमन मालन, रीजा हेंड्रिक्स, काइल वेरेन, जॉर्ज गार्टन, अल्जारी जोसेफ, ल्यूस डु प्लॉय, लुईस ग्रेगरी, लिजाद विलियम्स, डोनावन फरेरा, नंद्रे बर्गर , मालुसी सिबोटो, कालेब सेलेक।: एडेन मार्करम, ओटनील बार्टमैन, मार्को यान्सन, ट्रिस्टन स्टब्स, सिसांडा मगला, जुनैद दाऊद, मेसन क्रेन, जॉन-जॉन स्मट्स, जॉर्डन कॉक्स, एडम रॉसिंगटन, रोएलोफ वैन डेर मेर्वे, मार्केस एकरमैन, जेम्स फुलर, ब्रायडन कारसे, सरेल एरवी, आया गकामाने, टॉम एबेल।: डेविड मिलर, कॉर्बिन बॉश, जोस बटलर, ओबेद मैकॉय, लुंगी एनगिडी, तबरेज शम्सी, जेसन रॉय, डेन विलास, ब्योर्न फोर्टुइन, विहान लुबे, फेरिस्को एडम्स, इमरान मैनैक, इवान जोन्स, रेमन सिममंड्स, मिशेल वैन बुरेन, इयोन मॉर्गन, कोडी यूसुफ।: क्विंटन डी कॉक, प्रेनेलन सुब्रायन, जेसन होल्डर, काइल मायर्स, रीस टॉपली, ड्वेन प्रिटोरियस, हेनरिक क्लासेन, कीमो पॉल, केशव महाराज, काइल एबॉट, जूनियर डाला, दिलशान मदुशंका, जॉनसन चार्ल्स, मैथ्यू ब्रीट्जके, क्रिस्टियान जोंकर, वियान मुलडर, साइमन हार्मर।: कगिसो रबाडा, डेवाल्ड ब्रेविस, राशिद खान, लियाम लिविंगस्टोन, सैम कुरन, रस्सी वान दर डूसेन, रयान रिकेलटन, जॉर्ज लिंडे, बेउरन हेंड्रिक्स, डुआन जेनसेन, डेलानो पोटगाइटर, ग्रांट रूलोफसेन, वेस्ले मार्शल, ओली स्टोन, वकार सलामखिल , जियाद अबराम्स, ओडियन स्मिथ।: एनरिक नॉर्खिया, मिगेल प्रिटोरियस, रिले रोस्यू, फिल साल्ट, वायन पार्नेल, जोश लिटिल, शॉन वॉन बर्ग, आदिल रशीद, कैमरन डेलपोर्ट, विल जैक, थ्यूनिस डी ब्रुइन, मार्को मरैस, कुसल मेंडिस, डेरिन डुपाविलॉन, जिमी नीशम, ईथन बॉश, शेन डैड्सवेल।कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिव10 हजार रुपये से कम कीमत का मोटो E7 प्लस लॉन्च, जानिए क्या हैं फीचर्स******नई दिल्ली। लेनोवो के स्वामित्व वाले स्मार्टफोन ब्रांड मोटोरोला ने बुधवार को भारत में एक नए स्मार्टफोन मोटो ई7 प्लस को लॉन्च किया है, जिसकी कीमत 9,499 रुपये रखी गई है। स्मार्टफोन को 30 सितंबर को दोपहर बारह बजे से फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध कराया जाएगा। इसके दो कलर वेरिएंट हैं, मिस्टी ब्लू और ट्विलाइट ऑरेंज। फोन इसी महीने सबसे पहले ब्राजील में उतारा गया था। ये 10 हजार रुपये से कम कीमत में पहला स्मार्टफोन है जिसमें सेंसर के सहित 48 मेगापिक्सल कैमरा दिया गया है। कंपनी ने अपने एक बयान में कहा है, "मोटोरोला के ई सीरीज वाले स्मार्टफोन दुनियाभर के उन स्मार्टफोन यूजर्स की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए मशहूर है, जो नए जमाने के डिजाइन और बेहतरीन फीचर्स के साथ गुणवत्ता को सुधारने की चाह रखते है।"स्पेसिफिकेशन की बात करें, तो स्मार्टफोन में 20:9 के आस्पेक्ट रेशियो के साथ 6.5 इंच का एचडी प्लस डिस्प्ले दिया गया है। यह डिवाइस ओक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 460 एसओसी द्वारा संचालित है, जिसमें ग्राफिक्स के लिए एड्रेनो 610 जीपीयू है। इसके अलावा, फोन में 4जीबी रैम और 64 जीबी रोम मेमोरी और इंटरनल स्टोरेज की सुविधा दी गई है, जिसे माइक्रो एसडी कार्ड का उपयोग करके 512 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है। स्मार्टफोन में डुअल रियर कैमरा सेटअप है जिसमें एफ/1.7 लेंस के साथ 48 एमपी का प्राइमरी सेंसर है और एफ/2.4 लेंस के साथ 2एमपी का सेकेंडरी सेंसर है। फोन में आगे की ओर 8एमपी का सेल्फी कैमरा है जिसे एफ/2.2 लेंस के साथ पेयर किया गया है।मोटोरोला ई7 प्लस में 5000 एमएएच बैटरी है जो 10 वॉट चार्जिंग को सपोर्ट करती है। इसके साथ ही इसमें फिंगरप्रिंट सेंसर, 4g LTE, वाई फाई माइक्रो यूएसबी, जीपीएस आदि शामिल हैं। इस स्मार्टफोन की मुकाबला रेडमी 9 प्राइम, सैमसंग गैलेक्सी एम 11, रियलमी नारजो 20 इन, से होगा।

'कसौटी जिंदगी..' की आमना शरीफ के स्टाफ मेंबर को हुआ कोरोना, एक्ट्रेस की रिपोर्ट आई निगेटिव

कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवRaju Srivastav के फैन ने अस्पताल में की हद पार, बिना परमिशन ICU जा घुसा और फिर...******Highlightsकॉमेडियन व एक्टर राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastav) बीते कई दिनों से दिल का दौरा पड़ने के कारण दिल्ली के एम्स में भर्ती हैं। इस दौरान लगातार उनके करीबी और फैंस उनकी सेहत को लेकर दुआएं मांग रहे हैं। लोग सोशल मीडिया पर लगातार उनकी सेहत की जानकारी (Raju Shrivastav Health Update) पाने के लिए उत्सुक रहते हैं, वह राजू के होश में आने की खुशखबरी सुनना चाहते हैं। लेकिन इसी बीच एक शख्स ने सारी हदें पार करते हुए राजू श्रीवास्तव के पास जाने की कोशिश की है।कुछ मीडिया रिपोर्ट्स ने जानकारी दी है कि मंगलवार को राजू श्रीवास्तव जिस ICU में एडमिट हैं, उसमें एक अज्ञात शख्स ने बिना किसी की अनुमति के एंट्री की। बात यहीं खत्म नहीं हुई इस शख्स ने राजू श्रीवास्तव के साथ एक सेल्फी लेने की कोशिश की। लेकिन मौजूद स्टाफ ने उसे रोक लिया और राजू श्रीवास्व की फैमिली भी वहां आ गई। जिसके बाद ICU के बार सुरक्षा बढ़ा दी गई है। खबरों की माने तो वह शख्स खुद को राजू का फैन बता रहा था।इसी बीच अच्छी खबर यह है कि कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastav) की सेहत कुछ समय से स्थिर है। बीते दिनों डॉक्टर्स ने एक अच्छी खबर मीडिया को दी थी कि राजू अब ठीक इलाज के लिए ठीक रिस्पॉन्स कर रहे हैं। उनके शरीर की मूमेंट पहले से बेहतर हैं। उनका ब्लडप्रेशन भी अब पहले से ठीक है और ऑक्सीजन सप्लाई को भी 10 प्रतिशत तक घटा दिया गया है।आपको बता दें कि बीते दिनों किसी ने राजू की तबियत बिगड़ने की अफवाह फैलाई थी, जिसके बाद राजू के परिवार के सदस्यों ने नाराजगी जताते हुए यह कहा था कि वह अब ठीक हो रहे हैं। राजू के छोटे भाई ने वीडियो शेयर करके यह अनुरोध किया था कि कॉमेडियन को लेकर किसी झूठी या अधूरी जानकारी को शेयर ना करें।कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवHome Loan पर 31 मार्च तक सरकार दे रही है यह बड़ी छूट, बचा सकते हैं 5​ लाख का टैक्स******Home LoanHighlightsइनकम टैक्‍स बचाने का सीजन आ गया है। ऐसे में हर कमाऊ व्‍याक्ति यही चाहता है कि उसे कम से कम टैक्‍स देना पड़े। ऐसे में आज हम आपको बता रहे हैं कि आप अपने होम लोन पर किस तरह से 5 लाख रुपये तकआयकर छूट प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि, इसके लिए जरूरी है कि आप होम लोन 31 मार्च, 2022 से पहले ले लें।आयकर की धारा-80C के तहत आप होम लोन के मूलधन भुगतान पर 1.5 लाख रुपये तक की कर छूट प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि, इस धारा के तहत छूट की शर्त यह है कि प्रॉपर्टी का निर्माण लोन लेने वाले वित्त वर्ष के खत्‍म होने से 5 साल के भीतर पूरा हो जाना चाहिए। वहीं, जिस घर के लिए होम लोन लिया गया है उसे खरीदे जाने के 5 साल तक बेचा नहीं जा सकता है। इस सेक्शन में स्टाम्प ड्यूटी और रजिस्ट्रेशन चार्जेज भी शामिल होता है।आयकर की धारा 24(B) के तहत आप होम लोन के एवज में ब्याज अदायगी पर 2 लाख रुपये तक की कर छूट ले सकते हैं। यह छूट घर का निर्माण पूरा होने के साल से क्लेम की जा सकती है। हालांकि, इसमें एक शर्त यह है कि जिस वित्त वर्ष में लोन लिया गया है, उस वित्त वर्ष के समाप्त होने के बाद अगले पांच साल के भीतर कंस्ट्रक्शन का काम पूरा हो जाना चाहिए।अगर आप पहली दफा घर खरीदने जा रहे हैं और प्रॉपर्टी की कीमत 45 लाख या कम है तो आप होम लोन पर अतिरिक्त आयकर छूट प्राप्त कर सकते हैं। सरकार पहली दफा घर खरीदारों को आयकर की धारा-80EEA के तहत 1 अप्रैल, 2019 से 31 मार्च, 2022 तक 1.5 लाख रुपये तक की अतिरिक्त कर छूट दे रही है।इस तरह, आयकर की धारा-80सी के तहत 1.5 लाख रुपये, धारा-80EEA के तहत 1.5 लाख रुपये और धारा 24(B) के तहत 2 लाख रुपये तक की आयकर छूट आप ले सकते हैं। यानी आप 31 मार्च,2022 तक होम लोन लेकर 5 लाख रुपये की आयकर छूट आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवMadhya Pradesh News: अवैध तौर पर चल रहे मल्टी स्पेशिलिटी हॉस्पिटल को किया गया सील, संचालक पर मामला दर्ज******Highlightsमध्यप्रदेश के इंदौर जिले में बिना पंजीयन के अवैध तौर पर चलाए जा रहे एक निजी अस्पताल को प्रशासन ने सील कर दिया है। इसके साथ ही, अस्पताल संचालक पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। प्रशासन के एक अधिकारी ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी।अधिकारी ने बताया कि हमें खबर मिली थी कि यहां से करीब 30 किलोमीटर दूर सिमरोल कस्बे में मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल के रूप में चलाया जा रहा है। मौके पर पहुंच हमने हॉस्पिटल में जांच की। जांच में हॉस्पिटल अवैध निकला। जिस पर एक्शन लेते हुए एक निजी हॉस्पिटल को सील कर दिया गया। उन्होंने बताया कि प्रशासन की जांच में पाया गया कि हॉस्पिटल के रजिस्ट्रेशन का आवेदन अपूर्ण होने से स्वास्थ्य विभाग द्वारा काफी पहले खारिज कर दिया गया था, लेकिन इसके बावजूद हॉस्पिटल में मरीजों को भर्ती किया जा रहा था और पैथोलॉजी लैब भी चलाई जा रही थी।अधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के निरीक्षण के दौरान हॉस्पिटल में एक्पायर हो चुकी दवाइयां भी मिली हैं जिन्हें मरीजों को दिए जाने पर उनकी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता था। उन्होंने बताया कि हॉस्पिटल के संचालक डी एल देवड़ा और अन्य लोगों के खिलाफ मध्यप्रदेश नर्सिंग होम और हॉस्पिटलिटी इस्टैब्लिशमेंट (रजिस्ट्रेशन और लाइसेंसिंग) एक्ट 1973 और IPC के धाराओं के तहत FIR दर्ज की गई है।

'कसौटी जिंदगी..' की आमना शरीफ के स्टाफ मेंबर को हुआ कोरोना, एक्ट्रेस की रिपोर्ट आई निगेटिव

कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवशेयर बाजार में जोरदार तेजी से कंपनियों की बल्ले-बल्ले, एक हफ्ते में 2.72 लाख करोड़ बढ़ी पूंजी******sensexHighlights सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) में बीते सप्ताह 2.72 लाख करोड़ रुपये का जबर्दस्त उछाल आया। वैश्विक बाजारों में तेजी के रुख के बीच यहां भी जोरदार लिवाली से सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों के बाजार मूल्यांकन में अच्छी-खासी वृद्धि हुई। छुट्टियों वाले कम कारोबारी सत्रों के सप्ताह में बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 2,313.63 अंक या 4.16 प्रतिशत के लाभ में रहा। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 656.60 अंक या 3.95 प्रतिशत चढ़ गया।रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 54,904.27 करोड़ रुपये बढ़कर 16,77,447.33 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनियों टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इन्फोसिस टेक्नोलॉजीज का बाजार मूल्यांकन सामूहिक रूप से 41,058.98 करोड़ रुपये बढ़ा। समीक्षाधीन सप्ताह में टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 27,557.93 करोड़ रुपये बढ़कर 13,59,475.36 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। वहीं इन्फोसिस का मूल्यांकन 13,501.05 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 7,79,948.32 करोड़ रुपये रहा।देश के शीर्ष बैंकों एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के बाजार मूल्यांकन में जोरदार उछाल आया। एचडीएफसी बैंक का बाजार मूल्यांकन 46,283.99 करोड़ रुपये बढ़कर 8,20,747.17 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। एसबीआई की बाजार हैसियत 27,978.65 करोड़ रुपये बढ़कर 4,47,792.38 करोड़ रुपये और आईसीआईसीआई बैंक की 29,127.31 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 5,00,174.83 करोड़ रुपये रही। हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत 1,703.45 करोड़ रुपये बढ़कर 4,93,907.58 करोड़ रुपये रही। बजाज फाइनेंस का बाजार मूल्यांकन 22,311.87 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 4,22,325.91 करोड़ रुपये रहा। एचडीएफसी का बाजार पूंजीकरण 33,438.47 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 4,37,859.67 करोड़ रुपये रहा।सप्ताह के दौरान दूरसंचार क्षेत्र की दिग्गज कंपनी भारती एयरटेल की बाजार हैसियत 15,377.68 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 3,96,963.73 करोड़ रुपये पर पहुंच गई। शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एसबीआई, एचडीएफसी, बजाज फाइनेंस और भारती एयरटेल का स्थान रहा।कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवतेजी से वजन घटाने और पेट की चर्बी कम करने के लिए बस अपनाएं ये सिंपल टिप्स, कुछ ही दिनों में दिखेगा असर******आज के समय में हर चौथा व्यक्ति मोटापे की समस्या से परेशान हैं। जिससे निजात पाने के लिए कई तरह के उपाय अपनाता है। अधिक से अधिक समय वर्कआउट और एक कठिन डाइट में निकाल देता है। ऐसे में उन लोगों के लिए फिट बॉडी पाना एक जुनून सा होता है। अगर आप भी तेजी से अपना वजन करना चाहते हैं तो इसमें आपकी मदद येहेल्दी उपाय कर सकते हैं। इसके लिए बस आपको अपनी और खानपान में थोड़ा सा बदलाव करना होगा।अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आप कितने ज्यादा निश्चय किया है। लेकिन अना एक डाइट प्लान जरूर बना लें। इससे आपके वजन करने में काफी मदद मिलेगी। इसलिए दिन में कई बार यानी हर 4 घंटे में कुछ न कुछ थोड़ी-थोड़ी मात्रा में जरूर खाएं। इससे आप ज्यादा खाना भी नहीं खा पाएंगे। इसके साथ ही यह आसानी से पच जाएगा। जिससे आपको वजन कम करने में मदद मिलेगी।अपनी डाइट में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा रखें। इससे आपकी मसल्स बनेगी। इसके साथ ही भूख कम लगेगा। जिससे वजन कम करने के साथ-साथ दूसरी बीमारियों से भी कोसों दूर रहेंगे। इसलिए अपनी डाइट में अंडा, चिकन, दाल, सब्जी और फलियां जरूर शामिल करें।एक अच्छी डाइट के साथ-साथ वर्कआउट करने में भी थोड़ा सचेत रहने की जरूरत है। इससे आपका वजन तेजी से कम होने के साथ आप फिट रहेंगे। लेकिन जरूरी नहीं है कि आप इतना ज्यादा करे कि थकावट आ जाए। बस खुद को फिट रहने के लिए योग, एक्सरसाइज का सहारा जरूर लें।शरीर को हाइड्रेट करने के साथ वजन कम करने में सबसे ज्यादा मदद पानी ही करेगा। इसलिए जरूरी है कि अधिक से अधिक पानी पिएं। इसके साथ ही खाने से थोड़ी देर पहले पानी जरूर पिएं। इससे आप लिमिट से ज्यादा खाने से बच जाएंगे। जिससे आपका पाचन तंत्र ठीक ढंग से काम करने के साथ फैट कम करने में मदद करेगा।आमतौर पर माना जाता है कि अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो कार्बोहाइड्रेट वाली चीजों से दूरी बना लें। ऐसा करने से हमारे शरीर में कमजोरी आने लगती है। इसके साथ ही तेजी से फाइबर की कमी होने लगती है। इसलिए अपनी डाइट में थोड़ा ही सही लेकिन कार्ब्स वाली चीजें जरूर शामिल करें।

'कसौटी जिंदगी..' की आमना शरीफ के स्टाफ मेंबर को हुआ कोरोना, एक्ट्रेस की रिपोर्ट आई निगेटिव

कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवBig changes in IPC & CRPC: अब मोदी-शाह के ब्रह्म फांस से बच नहीं सकेंगे अपराधी, बदल जाएंगे IPC और CrPC के ज्यादातर कानून******Highlights प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह विभिन्न जघन्यतम अपराधों में संलिप्त अपराधियों को अब इतनी कड़ी से कड़ी और जल्द सजा दिलाने के प्रावधान पर काम कर रहे हैं कि इसके बारे में जानकर शातिरों की रूह कांप जाएगी। खूंखार से खूंखार अपराधियों को फांसी के फंदे तक पहुंचाने और उन्हें सख्त सजा दिलाने के लिए इंडियन पीनल कोड (आइपीसी) यानि भारतीय दंड संहिता और क्रिमिनल प्रोसिजर कोड (सीआरपीसी) में भी बड़े बदलाव की तैयारी हो चुकी है।पीएम मोदी और अमित शाह इस बदलाव को हरी झंडी भी दे चुके हैं। अब देश की आजादी से पहले चले आ रहे आइपीसी और सीआरपीसी में व्यापक बदलाव किए जाएंगे। ताकि अपराधी कानून के शिकंजे से किसी भी दांवपेंच से खुद को बचा नहीं सके। इसके लिए राष्ट्रीय फॉरेंसिक साइंस विश्वविद्यालय की संरचना और उपयोगिता को लगातार मजबूत करने पर जोर दिया जा रहा है।अब छह वर्ष से अधिक की सजा वाले अपराधों में फॉरेंसिक जांच को अनिवार्य किया जा रहा है। ताकि अपराधी को जल्द सजा दिलाई जा सके। साथ ही यह प्रावधान किसी मामले में फर्जी रूप से फंसाए गए अपराधियों को बचाने का भी काम करेगा। किसी मामले में फर्जी रूप से फंसाए गए आरोपी के खिलाफ फॉरेंसिक जांच में सुबूत नहीं मिलने पर वह इस मकड़जाल से बचकर बाहर भी आ सकेगा। इसका मकसद निर्दोष को बाहर निकालना और अपराधियों को सजा की दहलीज तक पहुंचाना है। इसके लिए सरकार हर जिले में कम से कम एक मोबाइल फॉरेंसिक जांच यूनिट उपलब्ध कराने के लक्ष्य पर काम कर रही है, जिसमें जांच में पूरी निष्पक्षता और पारदर्शिता हो। साथ ही किसी भी तरह से जांच के प्रभावित होने की आशंका न हो।अमित शाह के अनुसार भारत में अब ऐसी प्रणाली विकसित होने जा रही है, जिससे विकसित देशों से भी अधिक सजा दिलाने की दर को हासिल किया जा सकेगा। इसके लिए बड़ी संख्या में देश में फॉरेंसिक साइंस विशेषज्ञ तैयार किए जाएंगे। साथ ही फॉरेंसिक साक्ष्यों को कानूनी बनाया जाएगा। यह तभी संभव हो सकेगा जब छह साल से अधिक सजा वाले मामलों में फॉरेंसिक जांच को अनिवार्य कानून के दायरे में लाया जाए।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कानून मंत्रालय अब आइपीसी और सीआरपीसी में बड़ा बदलाव करने जा रहा है। सरकार का मानना है कि देश को आजादी मिलने के बाद से किसी भी सरकार ने अब तक इन कानूनों को आधुनिक परिप्रेक्ष्य में नहीं देखा। अंग्रेजो के समय में बनाए गए कानून को लिहाजा देश बोझ की तरह ढोता आ रहा है। इसलिए अब ऐसे कानूनों को बदलने की जरूरत महसूस की जा रही है। इतना ही नहीं अपराधियों को सजा के मुहाने तक पहुंचाने के लिए भारतीय साक्ष्य अधिनियम में भी बड़े परिवर्तन किए जाएंगे। इसके लिए कानून मंत्रालय विशेषज्ञों से भी राय ले रहा है।पीएम मोदी की महत्वाकांक्षा के अनुरूप भारतीय फॉरेंसिक साइंस के प्रारूप को कुछ इस तरह अत्याधुनिक किया जा रहा है कि यहां ऐसे विशेषज्ञ तैयार हों, जिनके कार्यों की उत्कृष्टता से देश इस क्षेत्र में बड़ा मुकाम हासिल कर सके। विश्व स्तरीय फॉरेंसिक साइंस का जलवा दुनिया के मानस पटल पर अंकित हो सके।केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी की महत्वाकांक्षा और देश की जरूरतों के मुताबिक भारतीय फॉरेंसिक साइंस विश्वविद्यालय लगातार अपने दायरे को बढ़ाता जा रहा है। अब तक गोवा, त्रिपुरा, मणिपुर, मध्यप्रदेश और असम में इसके कैंपस शुरू हो गए हैं। कर्नाटक और महाराष्ट्र के पुणे में भी इसकी स्थापना का कार्य तेजी से चल रहा है।

कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिव'Anupamaa' छोड़ने के बाद पुराने समर ने झेली मुश्किलें? जानिए एक्टर ने दिया क्या जवाब******Highlightsहाल ही में पारस कलनावत (Paras Kalnawat) रूपाली गांगुली (Rupali Ganuly) के शो 'अनुपमा' से बाहर निकलने के लिए चर्चा में थे। अभिनेता अगली बार 'झलक दिखला जा 10' (Jhalak Dikhhla Jaa 10) में दिखाई देंगे। इस फेमस डांस रियलिटी शो को करण जौहर, माधुरी दीक्षित नेने और नोरा फतेही द्वारा जज किया जा रहा है। इस शो की शुरुआत के पहले समर यानी पारस ने फेमस शो से बाहर होने के अनुभव को शेयर किया है।हाल ही में पिंकविला से बातचीत में पारस ने 'झलक दिखला जा 10' (Jhalak Dikhhla Jaa 10) के कंटेस्टेंट बनने के डिसीजन पर बात की है। उन्होंने कहा, "झलक दिखला जा पांच साल बाद आ रहा है। यह सबसे बड़ा डांस रियलिटी शो है, जिसने मुझे शो हमेशा से आकर्षित किया है। क्योंकि मैं इसे बचपन से देख रहा हूं और मैंने हमेशा खुद को मंच पर होने की कल्पना की है।" कहा जाए तो इस शो में आना पारस के लिए बचपन का सपना पूरा करने जैसा है।जब पारस से पूछा गया कि क्या अनुपमा को छोड़ना मुश्किल था? तो पारस ने कहा, "बिल्कुल नहीं, क्योंकि यही मैंने अपने लिए चुना है। मेरा मानना ​​है कि जो कुछ भी होता है, जीवन में कुछ बेहतर होने के लिए होता है और मैं बस इस खूबसूरत यात्रा का इंतजार कर रहा हूं। मुझे इस यात्रा में बहुत कुछ सीखने को मिलेगा और मुझे बहुत सी नई चीजों का अनुभव होगा क्योंकि यह मेरे लिए बहुत नया है।" हालांकि पारस कलनावत ने कहा कि वह अब भी शो के अपने कुछ साथियों के संपर्क में हैं।क्या आप जानते हैं कि पारस का पसंदीदा डांस फॉर्म कौन सा है? इस सवाल के जवाब में वह बोले, "बॉलीवुड मेरा पसंदीदा डांस फॉर्म है क्योंकि जब मैंने होश संभाला उसके पहले से भी मैं बॉलीवुड फिल्में देखता रहा हूं। मैं हमेशा से बॉलीवुड डांस फॉर्म करता रहा हूं, इसलिए मेरे लिए दूसरे डांस फॉर्म काफी नए हैं। इसलिए अब तक मैं बॉलीवुड डांस फॉर्म को अपना फेवरेट मानता आया हूं।"कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवJhunJhunwala Shares : ’बिग बुल’ को शेयर बाजार का सलाम, जानिए झुनझुनवाला के शेयरों ने आज क्या किया कमाल******Highlightsभारतीय शेयर बाजार में ‘बिग बुल’ और ‘भारत के वारेन बफे’ कहे जाने वाले झुनझुनवाला का रविवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। वह 62 वर्ष के थे। राकेश झुनझुनवाला ने बीते कई दशकों से शेयर बाजार में अपनी सूझबूझ के साथ चुनिंदा शेयरों में निवेश कर काफी पैसा और इज्जत कमाई है। 15 अगस्त की छुट्रटी के बाद मंगलवार को जब शेयर बाजार खुला तो हर किसी की निगाहें उन शेयरों पर टिकी थीं, जिनपर झुनझुनवाला ने भरोसा कर निवेश किया था।झुनझुनवाला ने तीन दर्जन से अधिक कंपनियों में निवेश किया हुआ था जिनमें टाटा समूह की कंपनी टाइटन सबसे अहम है। झुनझुनवाला के निधन के बाद के पहले कारोबारी दिवस पर मंगलवार को टाइटन के शेयर में 0.88 प्रतिशत की बढ़त देखी गई। कारोबार के दौरान एक समय यह 1.09 प्रतिशत तक चढ़ गया था। आइए जानते हैं झुनझुनवाला की पसंदीदा शेयरों ने मंगलवार को कैसा कारोबार किया।झुनझुनवाला शेयर बाजार के सबसे चर्चित निवेशक थे। जून, 2022 के अंत में कुल 32 कंपनियों के शेयर थे जिनका नेटवर्थ 31,905 करोड़ रुपये था। ट्रेंडलाइन के आंकड़ों के मुताबिक, झुनझुनवाला की टाइटन कंपनी, टाटा मोटर्स, स्टार हेल्थ एंड एलाइड इंश्योरेंस कंपनी, मेट्रो ब्रांड्स, फोर्टिस हेल्थकेयर, नजारा टेक्नोलॉजीज, फेडरल बैंक, डीबी रियल्टी और टाटा कम्युनिकेशंस में बड़ी हिस्सेदारी थी।फोर्ब्स के अनुसार, झुनझुनवाला का नेटवर्थ 5.8 अरब डॉलर था। फोर्ब्स की 2021 की सूची के अनुसार, वह भारत के 36वें सबसे अमीर व्यक्ति थे। कई बार उनकी तुलना वारेन बफे से की जाती थी। उन्हें भारतीय बाजारों का ‘बिग बुल’ भी कहा जाता था। उन्होंने अपने कॉलेज के दिनों में भारतीय शेयर बाजारों में निवेश की शुरुआत मात्र 5,000 रुपये की पूंजी के साथ की थी।

कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवOdisha News: बीजद के बिक्रम केशरी अरुखा ओडिशा के नए विधानसभा अध्यक्ष******Highlights ओडिशा के राजनीतिक दल बीजू जनता दल (BJD) के छह बार के विधायक बिक्रम केशरी अरुखा को सोमवार को निर्विरोध ओडिशा विधानसभा का अध्यक्ष चुना गया। विधायक बिक्रम केशरी अरुखा पहले सरकार के मुख्य सचेतक के रूप में थे। आपको बता दें कि अरुखा ने 'एसएन पात्रो' का स्थान लिया है, जिन्होंने स्वास्थ्य कारणों से विधानसभा अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद विधानसभा के विशेष सत्र में सीएम नवीन पटनायक ने अरुखा के नाम का प्रस्ताव विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए रखा था। इसका सभा में सभी दलों के सदस्यों ने समर्थन किया।उल्लेखनीय है कि ओडिशा विधानसभा में सत्तारूढ़ बीजद के 114 सदस्य हैं ,जबकि विपक्षी दल भाजपा के 22, कांग्रेस के नौ, माकपा का एक और एक निर्दलीय विधायक है। बीजेपी के मुख्य सचेतक (व्हिप) मोहन माझी ने अरुखा से राजनीतिक विचारों से ऊपर उठकर सदन की कार्यवाही का संचालन करने की अपील की। मोहन माझी ने कहा, ‘‘अरुखा को लंबा अनुभव है और मुझे उम्मीद है कि वह निष्पक्ष होकर कार्य करेंगे।’’ कांग्रेस विधायक दल के नेता नरसिंह मिश्रा ने नए विधानसभा अध्यक्ष से विपक्षी सदस्यों को महत्व देने की अपील की।आपको बता दें कि अरुखा संसदीय कार्य मंत्री भी रह चुके हैं। वह ओडिशा विधानसभा के 21वें अध्यक्ष के रूप में चुने गए हैं। उन्होंने शनिवार को बीजद के उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। अरुखा ने सीएम नवीन पटनायक को धन्यवाद देते हुए कहा, ‘‘मैं सभी सदस्यों का सहयोग चाहता हूं और सदन की गरिमा बनाए रखने की कोशिश करूंगा।’’अरुखा भंजनगर से वर्ष 1995 से ही विधायक हैं। हालांकि पात्रो ने इस महीने की शुरुआत में तब इस्तीफा दिया था, जब 20 मंत्रियों ने अपना पद छोड़ा था और मंत्रिपरिषद में फेरबदल का रास्ता साफ किया था।कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवहिमाचल में ताजा बर्फबारी, शिमला ने सफेद बर्फ की चादर ओढ़ी, अभी ठंड से राहत के आसार नहीं******Highlightsउत्तर भारत में बारिश और कोहरे के बीच पहाड़ों पर फिर बर्फबारी का दौर शुरू हो गया है। हिमाचल प्रदेश में ताजा हिमपात की वजह से राजधानी शिमला में बर्फ की चादर जम गई। पहाड़ी इलाकों में ताजा बर्फबारी से ठंड और बढ़ गई है। हिमाचल प्रदेश के रोहतांग, शिकारी देवी, कमरूनाग समेत ऊंची चोटियों पर ताजा बर्फबारी हुई। मौसम विभाग ने दो दिन भारी बारिश-बर्फबारी की चेतावनी जारी की है। 25 जनवरी तक प्रदेश में मौसम खराब रहने का अनुमान है।हिमाचल प्रदेश में रविवार को भी भारी बारिश और बर्फबारी की चेतावनी जारी हुई है। इससे पहले शुक्रवार को रोहतांग, शिकारी देवी, कमरूनाग समेत ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई थी। सोलंगनाला में फाहे गिरे और राजधानी शिमला में हल्की बूंदाबांदी हुई। रोहतांग दर्रा सहित ऊंची पहाड़ियों में दस सेंटीमीटर तक बर्फबारी दर्ज की गई। पांगी-किलाड़-केलांग और मनाली का मार्ग बार-बार हिमस्खलन व भूस्खलन से अवरूद्ध हो रहा है। रहोली और कडुनाला के बीच में भूस्खलन से मार्ग काफी समय तक बंद हो गया था। दुर्गम पर्यटन क्षेत्र मुल्थान के पहाड़ों पर भी दो दिन पहले हिमपात हुआ है।गौरतलब है कि देश के कई राज्यों में हल्की बारिश हो रही है। शनिवार को हल्की बरसात ने तापमान का गिराने का काम किया। इसके अलावा रविवार की सुबह से भी लगातार बारिश हो रही है। इस कारण हाड़ कंपाने वाली ठंड ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। सर्दी लोगों के लिए सिरदर्दी बनते जा रही है। मौसम विभाग की मानें तो अभी इस तरह के मौसम से निजात नहीं मिलने वाली है।मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि अगले दो दिनों में बिहार में बरसात के साथ-साथ बिजली गिरने और ओलावृष्टि के भी आसार हैं। इस कारण कोहरा एवं ठंड का प्रभाव अधिक देखने को मिल सकता है। दरअसल, इस बरसात के कारण गेहूं, सरसों की फसल को भारी नुकासन पहुंचने वाला है। इसने किसानों की चिंता भी बढ़ा दी है। दिल्ली—एनसीआर में ठंड और शीतलहर से बचने के लिए लोग आग तापते दिखे।

कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवUP News: सीएम योगी ने आजम खां पर बोला हमला, कहा- रामपुर का शोषण करने वाले दुर्गति भुगत रहे हैं******Highlights मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता और रामपुर से मौजूदा विधायक आजम खां पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि जिन्होंने अपने स्वार्थ के लिए रामपुर का शोषण किया वे आखिरकार इसका परिणाम भुगत रहे हैं। मुख्यमंत्री ने रामपुर में 72 करोड़ रुपए की लागत से बनी और अंडर कंस्ट्रक्शन 22 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसके बाद उन्होंने अपने संबोधन में कहा, ‘‘रामपुर की अपनी ऐतिहासिक और पौराणिक पहचान है और हमें इसे किसी भी हाल में बनाए रखना है।’’मुख्यमंत्री योगी ने आजम खां का नाम लिए बगैर उनपर कटाक्ष करते हुए कहा, ‘‘मगर ऐसे लोग, जिनके एजेंडे में विकास और जनकल्याण का कोई स्थान नहीं था, जिन लोगों ने अपने स्वार्थ के लिए रामपुर का शोषण किया। जिन्होंने रामपुर को ध्यान में रखकर विकास योजनाएं नहीं बनाई बल्कि वे योजनाएं सिर्फ एक व्यक्ति पर केंद्रित होने के साथ-साथ शोषण का साधन बनीं, अंततः उन्हें उसकी दुर्गति भी भुगतनी पड़ रही है।" सीएम योगी ने कहा कि जनता ने रामपुर लोकसभा उपचुनाव में घनश्याम लोधी को रामपुर में जीत दिलाकर विकास, खुशहाली के एक नए युग की शुरुआत की।गौरतलब है कि सपा के संस्थापक सदस्यों में शामिल आजम खां वर्तमान में रामपुर सदर से पार्टी विधायक हैं। पूर्व में वह रामपुर से सांसद भी रह चुके हैं। खां भ्रष्टाचार, अवैध कब्जे तथा चोरी समेत विभिन्न आरोपों के लगभग 89 मुकदमों में करीब 27 महीने तक सीतापुर जेल में बंद रहे थे और पिछली मई में उन्हें जमानत पर रिहा किया गया था। खां ने विधायक बनने के बाद रामपुर लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था जिस पर हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार घनश्याम लोधी को जीत मिली। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रामपुर के लोग विकास, सुरक्षा और खुशहाली के साथ खड़े हुए और एक नए युग की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि जनता ने घनश्याम लोधी को रामपुर लोकसभा उपचुनाव में जीत दिलाकर इसका स्पष्ट संदेश भी दे दिया है।कसौटीजिंदगीकीआमनाशरीफकेस्टाफमेंबरकोहुआकोरोनाएक्ट्रेसकीरिपोर्टआईनिगेटिवऑटो व बैंक शेयरों में भारी बिकवाली से बाजार टूटा, सेंसेक्स में 151 और निफ्टी में 49 अंक की आई गिरावट******BSE Sensexबंबई शेयर बाजार में सोमवार को भी गिरावट का सिलसिला जारी रहा। ऑटो, बैंकिंग, रीयल्टी कंपनियों के शेयरों में भारी बिकवाली से151 अंक से अधिक टूट गया। वहीं निफ्टी 10,900 अंक से नीचे बंद हुआ। औद्योगिक उत्पादन और मुद्रास्फीति के आंकड़े इसी सप्ताह आने हैं, जिसकी वजह से निवेशकों ने सतर्कता बरती। इसके अलावा वैश्विक मोर्चे पर वृद्धि की चिंता की वजह से भी बाजार नीचे आया। कारोबारियों ने कहा कि निवेशक अमेरिका-चीन व्यापर युद्ध तथा कंपनियों के उम्मीद से कमजोर तिमाही नतीजों को लेकर भी चिंतित हैं।बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स सोमवार को 36,588.41 से 36,300.48 अंक के दायरे में घूमने के बाद अंत में 151.45 अंक या 0.41 प्रतिशत के नुकसान से 36,395.03 अंक पर बंद हुआ। इससे पिछले दो कारोबारी सत्रों में सेंसेक्स 429 अंक टूटा था।नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 49.80 अंक या 0.50 प्रतिशत के नुकसान से 10,888.80 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान निफ्टी 10,857.10 के निचले स्तर तक आया तथा 10,930.90 अंक के उच्चस्तर तक गया।ऑटो कंपनियों के शेयर नुकसान में रहे। सबसे अधिक नुकसान में महिंद्रा एंड महिंद्रा का शेयर रहा जो पांच प्रतिशत टूटा। कंपनी ने शुक्रवार को अपनी दिसंबर, 2018 की तिमाही के नतीजे घोषित किए थे, जिसके मुताबिक उसका एकल शुद्ध लाभ 11.44 प्रतिशत घटकर 1,076.81 करोड़ रुपये पर आ गया।ब्रोकरों ने कहा कि वाहन कंपनियों के शेयरों में घबराहटपूर्ण बिकवाली रही।इस बीच, जनवरी में लगातार तीसरे महीने वाहन कंपनियों की बिक्री घटी। सियाम के आंकड़ों के अनुसार, माह के दौरान वाहन कंपनियों की बिक्री में 1.87 प्रतिशत की गिरावट आई।अन्य कंपनियों में ओएनजीसी, बजाज फाइनेंस, रिलायंस, एसबीआई, हीरो मोटोकॉर्प, आईसीआईसीआई बैंक, एलएंडटी, वेदांता, यस बैंक और एक्सिस बैंक के शेयर 2.54 प्रतिशत तक टूट गए। वहीं दूसरी ओर टाटा स्टील, पावरग्रिड, एचसीएल टेक, कोटक बैंक और मारुति के शेयर 2.31 प्रतिशत तक लाभ में रहे।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-09-29 05:05
उद्धरण 1 इमारत
Vice President: अपने अंदाज के लिए मशहूर जगदीप धनखड़ ने कैसे तय किया उपराष्ट्रपति बनने का सफर, पढ़िए पूरी स्टोरी******Highlights: उपराष्ट्रपति चुनाव में जगदीप धनखड़ ने शानदार जीत दर्ज की है। वही 11 अगस्त को उप राष्ट्रपति पद की शपथ लेगें। आपको बता दें, बंगाल के पूर्व राज्यपाल जगदीप को विपक्षी उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा के खिलाफ 528 वोट प्राप्त हुए। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई नेताओं ने ट्वीटर पर बधाई दी। आज हम नए उप राष्ट्रपति से जुड़ी ऐसी कहानी के बारे में जानने की कोशिश करेंगे, शायद जिनके बार में आपको भी मालुम नहीं होगा। ।जगदीप धनखड़ का जन्म 1951 में राजस्थान के किठाना गांव में हुआ था। किसानों के परिवार में पले-बढ़े जगदीप को हमेशा अपनी जड़ों से जुड़े रहे। प्राथमिक शिक्षा तक पढ़ाई गांव से ही किया। अपने गांव से 6 किलोमीटर पैदल चलकर स्कूल जाते थे। आग की पढ़ाई के लिए चित्तौड़गढ़ सैनिक स्कूल चले गए। चित्तौड़गढ़ में अपनी स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद, जगदीप ने जयपुर के महाराजा कॉलेज से भौतिकी में बीएससी किया। इसके बाद उन्होंने कानून की पढ़ाई राजस्थान विश्वविद्यालय से की। आपको बता दें, जगदीप ने अपना एलएलबी पूरा करने के बाद राजस्थान उच्च न्यायालय में अभ्यास किया था हालांकि कुछ दिनों बाद मुख्य रूप से सर्वोच्च न्यायालय में अपनी योगदान देने लगे। ये सबस कम उम्र में ही राजस्थान उच्च न्यायालय बार एसोसिएशन के अध्यक्ष के रूप में चुने गए थे। ऐसा कहा जाता है कि मुकदमेबाजी में अपने अंदाज में करते थे।देश में आपातकाल के बाद कई नेताओं के भाग खुल गए थे इसमें जगदीप धनखड़ भी थे। वो पहली बार 1989 से झुंझुन से जनता दल पार्टी से चुनाव लड़ा था और जीत भी हासिल की। इस जीत के बाद उन्हें महत्वपूर्ण विभागों में भी महत्वपूर्ण पदों पर काम करने का मौका मिला। जगदीप 1990 में संसदीय मामलों के राज्य मंत्री के रूप में कार्य किया। जगदीप लोगों के बीच काफी अपनी पकड़ बना चुके थे उन्होंने राष्ट्रीय राजनीति से विराम लेते हुए राज्य की राजनीति में कदम रखा और 1993 में अजमेर जिले के किशनगढ़ निर्वाचन क्षेत्र से राजस्थान विधानसभा चुनाव जीता। हालांकि कुछ समय बाद जगदीप कांग्रेस में शामिल हो गए थे तब उस समय पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा थे। लेकिन राजस्थान की राजनीति में अशोक गहलोत के बढ़ती दबदबा देख,जगदीप को मजबुरन 2003 में भाजपा में शामिल होना पड़ा।वही जगदीप धनखड़ को राजस्थान में एक प्रभावशाली जाट नेता के रूप में जाना जाता है। उन्होंने राज्य में जाट आरक्षण के मुद्दे में एक प्रमुख भूमिका निभाई थी। उपराष्ट्रपति के रूप में उनका चुनाव सुनिश्चित करेगा कि दोनों सदनों की अध्यक्षता राजस्थान के नेताओं द्वारा की जाए। इस कदम से सरकार को अगले साल होने वाले राजस्थान चुनाव में बढ़त हासिल करने के लिए कोशिश करेगी। इसी बहाने बीजेपी जाट वोट बैंक पर कब्जा करने के लिए ये कार्ड भी खेला है। जगदीप धनखड़ ने अपने राजनीतिक जीवन के शुरुआती दिनों में डिप्टी पीएम चौधरी डेविल लाल से काफी प्रभावित रहे।जगदीप धनखड़ को 2019 में बंगाल के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया। जाधवपुर विश्वविद्यालय विवाद या डीजीपी नियुक्ति जैसे कई मुद्दों पर उन्हें बंगाल की मौजूदा सीएम ममता बनर्जी से लगातार असहमति का सामना करना पड़ता था। हालांकि, यह उनकी कानूनी विशेषज्ञता थी जिसने उन्हें टीएमसी शासित पश्चिम बंगाल में केंद्र की उपस्थिति बनाए रखने की अनुमति दी। वे वीपी वेंकैया नायडू का कार्यकाल पूरा होने के बाद शपथ लेंगे। आपको बता दें कि उपराष्ट्रपति राज्यसभा का सभापति भी होता है। जगदीप संसद के 14वें उपाध्यक्ष होंगे।
2022-09-29 03:47
उद्धरण 2 इमारत
Hartalika Teej Puja Thali: हरतालिका तीज पर पूजा की थाली में जरूर रखें ये चीजें, घर आएगी सुख-संपदा******हर साल भाद्रपद शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरतालिका तीज का व्रत मनाया जाता है। इस बार हरतालिका तीज का व्रत 30 अगस्त को रखा जा रहा है। आचार्य इंदु प्रकाश के अनुसार हरतालिका तीज व्रत अविवाहित कन्याओं द्वारा अच्छे पति की प्राप्ति के लिए और विवाहित महिलाएं अपने सौभाग्य में बढ़ोतरी के लिए करती हैं। सनातन धर्म में सुहागिन महिलाओं के मुख्य त्योहार में हरतालिका तीज खास है। ये व्रत सुहागिन महिलाएं पति की लंबी आयु के लिए रखती हैं और शिव-पार्वती की विशेष आराधना करती है। इस दिन महिलाएं निर्जला उपवास रखती हैं और दूसरे दिन सुबह पूजा-पाठ करने के बाद ही अपना व्रत खोलती है।कहा जाता है कि हरियाली तीज की पूजा में सभी सामग्री का होना बहुत जरूरी है तभी व्रत पूर्ण माना जाता है। कई महिलाएं ऐसी भी होंगी जो पहली बार हरतालिका व्रत करेंगी। ऐसे में उनके लिए ये जानना बहुत जरूरी है कि पूजा की थाल में किन चीजों का होना जरूरी है। आइए जानते हैं तीज की पूजा थाल में कौन-कौन सी चीजें होना चाहिए।
2022-09-29 03:37
उद्धरण 3 इमारत
Shooting in America: अमेरिका में फिलीपीन के सरकारी अटॉर्नी की गोली मारकर हत्या, काली गाड़ी में सवार लोगों ने की फायरिंग******Highlightsअमेरिका में फिलीपीन के सरकारी अटॉर्नी की गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है। अधिकारियों ने बताया कि अटॉर्नी जॉन अल्बर्ट लायलो अपनी मां के साथ फिलाडेल्फिया अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की ओर जा रहे थे तभी शनिवार सुबह करीब चार बजकर 10 मिनट पर पेन्सिलवेनिया विश्वविद्यालय के पास एक लाल बत्ती पर उनकी निजी कैब रुकी। तभी पीछे से एक काली गाड़ी उनके पास आकर रुक गई और उसमें से उनकी कार पर कई गोलियां चलाईं गई।अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गयापुलिस ने बताया कि लायलो के सिर में गोली लगी और उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने बताया कि मामले में अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। हमला के कारण का भी अभी तक पता नहीं चल पाया है। अभी यह भी स्पष्ट नहीं है कि हमले में लायलो, उनकी मां या उबर चालक में से किसे निशाना बनाया गया था। फिलाडेल्फिया के ‘केवाईडब्ल्यू-टीवी’ के अनुसार, फिलीपीन के महावाणिज्य दूतावास ने बताया कि लायलो फिलीपीन सरकार के अटॉर्नी थे। उबर चालक और अटॉर्नी की मां के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।12 जून को शिकागो में हुई गोलीबारीफिलीपीन के सरकारी अटॉर्नी को गोली मारने के पीछे क्या वजह थी ये तो अभी जांच का विषय है, लेकिन अमेरिका से गोलीबारी की खबर अकसर आती रहती है। अभी बीते 12 जून को शिकागो के पास गैरी क्षेत्र में स्थित इंडियाना नाइट क्लब में फायरिंग की घटना देखने को मिली। जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई वहीं 4 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।
वापसी